GK MPPSC SSC

रसायन विज्ञान ( Chemistry ) बिषय से संबंधित महत्वपूर्ण Question and Answer – जो बार – बार प्रतियोगी परीक्षाओं में पूंछे जाते हैं

most-important-question-chemistry-hindi-notes
Written by Nitin Gupta

नमस्कार दोस्तो , Welcome to Our Website 🙂

दोस्तो आज की हमारी पोस्ट सामान्य विज्ञान से संबंधित है , इस पोस्ट में हम आपको सामान्य विज्ञान के अंतर्गत रसायन विज्ञान ( Chemistry ) बिषय से संबंधित महत्वपूर्ण One Liner Question उपलब्ध करायेंगे , जो आपको आने बाले सभी Exams जिनमें Science से संबंधित Question पूंछे जाते है उन सब में काम आयेगी ! इसके अलाबा हमने आपको इसी तरह की Physics व Biology से संबंधित पोस्ट भी हमारी बेबसाइट पर उपलब्ध करा दी हैं !

सभी बिषयवार Free PDF यहां से Download करें

Most Important Question Chemistry Hindi Notes

  • आधुनिक रसायन विज्ञान का पिता सेवोसियर को कहा जाता है l
  • विश्लेषिका रसायन में विभिन्न द्रव्यों का गुणात्मक तथा मात्रात्मक विश्लेषण किया जाता है l
  • सबसे हल्का तत्व हाइड्रोजन है l
  • शुद्ध वायु समांग मिश्रण का उदाहरण होती है l
  • मिश्र धातुएँ समांगी मिश्रण होती हैं l
  • वायु , गैस एवं जलवाष्प का मिश्रण है l
  • एल्कोहल एवं जल का मिश्रण समांगी मिश्रण है l
  • पेट्रोल एवं जल का मिश्रण विषमांगी मिश्रण है l
  • तांबा प्रदूषण रहित तत्व हैं l
  • कार्बन मुख्यतः एक मिश्रण है लोहा एवं कार्बन का l
  • आसुत जल आसवन विधि द्वारा प्राप्त किया जाता है l
  • निलंबन विषमांगी की तरह का मिश्रण है l
  • कोलॉइड विषमांगी की तरह का मिश्रण है l
  • द्रव की प्लाज्मा अवस्था विद्युत् की सुचालक होती है l
  • आर्सेनिक एवं एंटिमनी उपधातु श्रेणी के तत्व हैं l
  • ब्रोमीन कमरे के तप पर द्रव अवस्था में पाया जाता हैl
  • आस्तु जल आसवन विधि से प्राप्त किया जाता है पीतल , तांबा एवं जस्ते का मिश्रण है l
  • कोल्ड ड्रिंक में कार्बन डाईऑक्साइड गैस का जल में विलयन होता है l
  • तांबा , शुद्ध पदार्थ है l
  • आर्सेनिक में धातु एवं अधातु दोनों तरह के तत्व पाए जाते हैं l
  • नील्स बोर के मॉडल को आधुनिक भौतिकी की आधारशिला कहा जाता है l
  • परमाणु का अधिकांश द्रव्यमान नाभिक में निहित होता है l
  • नील्स बोर ने अपना परमाणु मॉडल 1913  ई० में प्रस्तुत किया l
  • इलेक्ट्रॉन को नाभिक का चक्कर लगाने के लिये आवश्यक अभिकेंद्र बल इलेक्ट्रॉन एवं नाभिक के बीच कार्यकारी स्थिर वैद्युत आकर्षण बल से प्राप्त होता है l
  • रदरफोर्ड का परमाणु मॉडल परमाणु के स्थायित्व एवं रेखीय स्पेक्ट्रम की संतोषजनक व्याख्या नहीं प्रस्तुत क्र सका l
  • बोर एवं बरी ने साथ मिलकर तत्वों के इलेक्ट्रॉनिक विन्यास की योजना प्रस्तुत की थी l
  • हाइड्रोजन के सूक्ष्म स्पेक्ट्रम की व्याख्या सोमरफील्ड ने की l
  • हाइजेनबर्ग की अनिश्चितता का सिद्धांत बड़े कानों पर लागु नहीं होता है क्योंकि बड़े कणों का द्रव्यमान अधिक होता है l
  • परमाणु संरचना का आधुनिक विचार इलेक्ट्रॉन की तरंग प्रकृति पर आधारित है l
  • हाइजेनबर्ग का अनिश्चितता का सिद्धांत बड़े कणों पर लागु नहीं होता है क्योंकि बड़े कणों का द्रव्यमान अधिक होता है l
  • परमाणु संरचना का आधुनिक विचार इलेक्ट्रॉन की तरंग प्रकृति पर आधारित है l
  • हाइजेनबर्ग का अनिश्चितता सिद्धांत ‘संवेग तथा स्थिति में अनिश्चितता विद्यमान होती है l “
  • परमाणु की संरचना का आधुनिक विचार श्रांडिगर  ने दिया l
  • कक्षक के आकृति सबसे जटिल होती है l
  • किसी कोष की कर्म संख्या (Order ) उस कोश में उपकोशों की संख्या व्यक्त करती है l
  • P उपकोश में अधिकतम इलेक्ट्रॉनों की संख्या  6 हो सकती है l
  • किसी परमाणु या आयन के चुंबकीय गुणों की व्याख्या चक्रण क्वांटम संख्या करता है l   
  • एक परमाणु में दो इलेक्ट्रॉनोंकी चारों संख्याएँ समान नहीं हो सकतीं I यह नियम ‘पाउली का अपवर्जन नियम है I’
  • एक मोल इलेक्ट्रॉन का भर 0.55 मिग्रा. होता है I
  • परमाणु की बाह्यतम कक्षा में उपस्थित इलेक्ट्रॉन संयोजी इलेक्ट्रॉन होते हैं I  
  • इलेक्ट्रॉन की खोज जे.जे. थॉमसन ने की I  
  • इलेक्ट्रॉन का द्रव्यमान हाइड्रोजन परमाणु का 1/1837वें भाग के बराबर होता है I  
  • परमाणु के नाभिक की खोज रदरफोर्ड ने 1911 ई. में की थी I
  • किसी तत्व के परमाण्विक भार को एटॉमिक मॉस यूनिट (a.m.u.)में व्यक्त किया जाता है  I
  • न्यूट्रॉन एक वैद्युत उदासीन कण है I
  • हाइड्रोजन ही एकमात्र ऐसा तत्व है ,जिसके सभी समस्थानिकों के नाम अलग -अलग होते हैं I
  • पोलोनियम (Po) सर्वाधिक समस्थानिकों वाला तत्व है I
  • जीवाश्मों, मृत पेड पौधे की आयु निर्धारण (कार्बन डेटिंग ) के लिए कार्बन के रेडियोसक्रिय` समस्थानिक का उपयोग किया जाता है I
  • सबसे मजबूत बंध एकल बंध (Single bond) होता है I
  • त्रिबंध से युक्त यौगिक सबसे क्रियाशील होते है I
  • विद्युत संयोजी यौगिकों के बंध युक्त यौगिकों के क्वथनांक अधिक होते है I
  • सोडियम क्लोराइड (NaCL)एवं कैल्शियम क्लोराइड में विद्युत् संयोजी बंध बनता है I
  • अधिक इलेक्ट्रॉन बंधता वाला तत्व इलेक्ट्रॉन ग्राही प्रवृति का होता है I
  • विद्युत संयोजक यौगिकों में अणु संरचना का अभाव पाया जाता है I
  • कार्बनिक यौगिकों में सह-संयोजक बंध पाया जाता है I
  • सह-संयोजक यौगिकों के अणु आपस में वांडरवाल्स बल से बंधे होते है I   
  • सह-संयोजी यौगिक अध्रुवीय तथा कार्बनिक विलायकों में आसानी से घुल जाते है
  • ग्रेफाइट तत्व का अणु सह-संयोजक बंध होने के बावजूद विद्युत का सुचालक है I
  • धात्विक ठोसों परमाणुओं के मध्य धात्विक बंध पाया जाता है I
  • पुरानी पुस्तकों के पन्ने ऑक्सीकरण के कारण पीले पड़ जाते हैं I
  • ऑक्साइड बनाने की क्रिया को ऑक्सीकरण कहते हैं  I
  • द्रव्यमान संरक्षण का नियम सर्वप्रथम लोमोनोसॉफ ने प्रतिपादित किया I
  • हवा में चांदी के बर्तनो का काला होना रासायनिक परिवर्तन है I
  • दूध से दही का बनना रासायनिक परिवर्तन है I  
  • जल का वाष्प में परिवर्तन भौतिक परिवर्तन है I
  • नोबल गैस समान गुणों वाइए रासायनिक तत्वों का एक समूह होता है I प्रमुख नोबल गैस हैं – हीलियम, नीऑन, आर्गन, क्रिप्टन, जौनॉन रेडॉनI
  • एक जलती हुई माचिस की तीली जब हाइड्रोजन गैस के सम्पर्क में आती है तो वह बुझ जाती है एवं गैस ‘चाप’ ध्वनि के बाद जल जाती है I
  • प्रकाश संश्लेषण तथा श्वसन भी रासायनिक परिवर्तन है I
  • पानी का चीनी में घुलना भौतिक परिवर्तन का उद्दाहरण है I
  • प्रिज्म से गुजरने पर श्वेत प्रकाश का सात रंगों में विभक्त होना भौतिक परिवर्तन है  I
  • गलन, वाष्पन, संघनन, हिमायन, आसवन, ऊर्ध्वपातन आदि भौतिक परिवर्तन हैं I
  • जल मैं विद्युत् प्रवाहित करने पर हाइड्रोजन एवं ऑक्सीजन प्राप्त होना रासायनिक परिवर्तन है l  
  • ऊष्माक्षेपी प्रतिक्रिया में ताप की उत्पति होती है l  
  • रासायनिक समीकरणों को द्रव्यमान संरक्षण के नियम द्वारा संतुलित किया जाता है l
  • कच्चे फल का पकना रासायनिक परिवर्तन है l
  • लोहे पर जंग लोहे का ऑक्सीकरण होने के कारण लगती है l
  • सिरके का मुख्य घटक एसिटिक एसिड है l
  • अम्लों एवं क्षारों की पहचान के लिये मुख्यतया लिटमस पेपर , फिनाफ्थेलिन और मेथिल ऑरेंज का प्रयोग किया जाता है l
  • लिटमस लाइकेन से प्राप्त किया जाता है l
  • अम्ल वर्षा मुख्यतया SO2 , NO2 आदि के कारण होता है l
  • चाय में टेनिक अम्ल पाया जाता है l
  • सिरके में एसिटिक अम्ल पाया जाता है l
  • घरों में सिरका स्टार्च के किण्वन से बनता है l
  • अम्लों के अम्लीय गुणों हेतु उत्तरदायी अम्लों के जलीय विलय में मुक्त हाइड्रोजन   (H+) आयन होता है l
  • अम्लों एवं क्षारों की आधुनिक संकल्पना लॉरी एवं ब्रॉन्स्टेड ने 1923 ई० में दी l
  • जल में कार्बन डाईऑक्साइड (CO2 ) प्रवाहित करने पर बना सोडा वाटर अम्लीय प्रकृति का होता है l
  • दूध में लैक्टिक अम्ल पाया जाता है l
  • अचार के परिरक्षण हेतु उसमें एसिटिक एसिड मिलाया जाता है l
  • सेब में मैलिक अम्ल पाया जाता है l
  • फोटोग्राफी में ऑक्जैलिक अम्ल प्रयुक्त होता है l
  • इमली में टार्टरिक अम्ल पाया जाता है l
  • चाय में टेनिक अम्ल पाया जाता है l
  • खाद्य पदार्थों के संरक्षण में बेन्जोइक अम्ल का उपयोग किया जाता है l
  • जल की कठोरता सोडियम कार्बोनेट एवं कैल्शियम हाइड्रोक्साइड द्वारा दूर की जाती है l
  • मक्खन में ब्यूटाईरिक अम्ल पाया जाता है l
  • फार्मिक अम्ल एवं एसिटिक अम्ल दोनों ही कार्बनिक एवं दुर्बल अम्ल हैं l
  • शीतल पेयों एवं एसिटिक अम्ल दोनों ही कार्बनिक एवं दुर्बल अम्ल हैं l
  • बेकिंग पाउडर निर्माण में पर्युक्त अम्ल टार्टरिक अम्ल है l
  • चीटियों में फार्मिक अम्ल पाया जाता है l
  • लंबे समय तक कठोर शारीरिक श्रम के पश्चात मांसपेशियों में थकान पेशियों में लैक्टिक अम्ल के कारण होता है l
  • कोकाकोला का खट्टा स्वाद फास्फोरिक अम्ल के कारण होता है l
  • कपडे के स्याही एवं जंग के दाग धब्बे छुड़ाने हेतु आक्जैलिक अम्ल का प्रयोग किया जाता है l
  • नींबू का खट्टापन इसमें उपस्थित सिट्रिक अम्ल के कारण होता हैं l
  • घी की प्रकृति अम्लीय होती है जिसका pH  मान लगभग 6.5 होता है l
  • वर्षा जल का pH मान 5.4  या कम होने को अम्ल वर्षा की संज्ञा देते है l
  • जठर रस में हाइड्रोक्लोरिक अम्ल पाया जाता है l
  • पौधों की अच्छी वृद्धि के लिये मृदा का pH मान 7  के आस – पास होना चाहिये l
  • मृदा का pH  मान 8 से अधिक होना क्षारीय मृदा कहलाता है l
  • pH मूल्य किसी घोल के अम्लीय या क्षारीय होने का मूल्यांकन दर्शाता है l  
  • फलों के रास के परिरक्षण के लिये सोडियम बेंजोइक का उपयोग किया जाता है l
  • सोडियम बाई कार्बोनेट का वाणिज्यिक नाम बेकिंग सोडा है l
  • मानव शरीर सामान्यतः 7  से 7.8 pH मान के बीच कार्य करता है l
  • रक्त में उपस्थित फॉस्फोरस हमारे  शरीर में अम्लीयता एवं क्षारीयता जे बीच संतुलन बनाए रखता है l
  • सातवां आवर्त अभी भी अपूर्ण है l
  • डी ब्लॉक के कुछ तत्व ऑफबाऊ के नियम का पालन नहीं करते हैं l
  • शीतलीकरण में नाइट्रोजन तत्व का ऑक्साइड होता होता है l
  • आधुनिक आवर्त सरणी का आधार परमाणु क्रमांक है l
  • पकृति में उपलब्ध अंतिम तत्व यूरेनियम  है l
  • तत्वों का एक्टिनाइट समूह रेडियो सक्रिय समूह कहलाता है l
  • यूनूनोक्तियम (Uo ) खोजा गया नया तत्व है l  
  • जिंक धातु एसिड एवं एल्कली के साथ क्रिया करके हाइड्रोजन निकलती है l
  • जर्मन सिल्वर में चांदी की मात्रा नहीं होती है l
  • पारा धातु सामान्य ताप पर द्रव अवस्था में रहता है l
  • स्टील मुख्यतः लोहा एवं कार्बन का मिश्रण है l
  • बोक्साइड एल्युमीनियम धातु का अयस्क है l
  • एंटिमनी स्टीबनाईट तत्व का अयस्क है l
  • लोहे में जंग लगने से उसके भार में वृद्धि हो जाती है l
  • प्लेटिनम कठोरतम धातुओं में से एक है l
  • तांबा एक ऐसा धातु है जो पर्यावरण को प्रदूषित नहीं करता l
  • श्वेत फॉस्फोरस को पानी में रखा जाता है क्योंकि ये हवा की ऑक्सीजन से क्रिया कर जल उठता है परन्तु जल से कोई प्रतिक्रिया नहीं करता l
  • जीवों में नाइट्रोजन प्रोटीन के रूप में पाया जाता है l
  • सर्वधिक कठोर तत्व हिरा है l
  • पोटैशियम ब्रोमाइट का प्रयोग नींद लेन वाली दवा के रूप में होता है l
  • एक से अधिक धातुओं तथा अधातुओं के समांगी मिश्रण को मिश्र धातु कहते है l
  • मिश्र धातुओं के गुण अवयवी धातुओं के गुणों से भिन्न होते है l
  • बेंजीन अरोमैटिक प्रकार के योगिक हैं l
  • प्रथम संश्लेषित कार्बनिक यौगिक का प्रियोगशाला में निर्माण व्होलर नई किया था l
  • किसी कार्बनिक यौगिक के मुख्य गुण यौगिक के क्रियात्मक समूह पर निर्भर करता है l
  • एथेन खुली श्रृंखला का यौगिक है l
  • न चिपकने वाले खाना पकने वाले बर्तनों में टेफ्लॉन का लेप चढ़ा होता है l
  • पॉलीथिन एथिलीन के बहुलीकरण द्वारा संश्लेषित किया जाता है l
  • रेयॉन सेलुलोज से बनाया जाता है l
  • थायोकाल रबर एक प्रकार की संश्लिष्ट रबर है l
  • न्यूनतम ज्वलनशील रेशा टेरेलीन है l
  • बकेलाइट एवं फिनॉल फर्मेल्डिहाइट के सहबहुलक हैं l  
  • निप्रोप्रीन संश्लेषित रबर है l
  • रबर को वल्कनीकृत करने के लिये प्रयुक्त तत्व सल्फर है l
  • कागज पौधों के सलूलोज से बनाया जाता है l
  • प्राकृतिक रबर आइसोप्रीन का बहुलक है जो कि रबर के वृक्ष से लेटैक्स के रूप में प्राप्त होता है l
  • CFC एक ‘ हरित गृह गैस ‘ है , जो ओजोन (O3 ) क्षरण के लिये जिम्मेदार है l
  • मीथेन को ‘मार्श’ गैस के नाम से भी जाना जाता है l
  • इथाइलीन रंगहीन गैस है इसे सूंघने से बेहोशी आ जाती है l
  • औद्योगिक स्तर पर एथाइलिन का निर्माण , पेट्रोलियम के भंजन द्वारा किया जाता है l
  • एसिटिलीन रंगहीन गैस है , कुछ अशुद्धियों के कारण इसमें लहसुन जैसी गंध होती है l
  • भीड़ को तीतर -बितर करने के लिये अश्रु गैस का उपयोग होता है l
  • मिथाइल एल्कोहल रंगहीन , ज्वनशील द्रव होता है जो अत्यधिक विषैला होता है l
  • इथाइल एल्कोहल को ‘ स्पिरिट ऑफ वाइन’ भी कहा जाता है l
  • डाई इथाइल ईथर रंगहीन , अतीवाष्पशील द्रव होता है , जिसे त्वचा में डालने से ठंडा अनुभव होता है l
  • प्लास्टिक कृत्रिम रेशे , खाद्य परिरक्षक , स्नेहक , रेजिन , एंटीफ्रीज आदि बनाने में गिलसरोल का उपयोग किया जाता है l
  • एसिटिक अम्ल , सिरके का प्रमुख अवयव होता है l
  • लैक्टिक अम्ल सभी प्रकार के दुग्ध में पाया जाता है l
  • फॉर्मिक अम्ल या मेथेनोइक अम्ल लाल चीटियों , बिच्छू तथा मधुमक्खी आदि के डंक में पाया जाता है l
  • मानव मूत्र में यूरिया पाया जाता है l  
  • कैल्शियम ऑक्ज्लेट की मात्रा अधिक हो जाने पर मानव गुर्दे में पथरी पड़ जाती है l
  • संश्लेषित रबड़ , क्लोरोप्रीन अथवा आइसोब्यूटाइलिन का बहुलक होती है l
  • नायलॉन मानव द्वारा संश्लेषित किया गया प्रथम रेशा है l
  • सोडियम बेन्जोएट का सर्वाधिक उपयोग खाघ परिरक्षक के रूप में होता है l
  • अपमार्जक कठोर जल के साथ कैल्शियम एवं मैग्नीशियम के घुलनशील लवण बनाते है l
  • कैनोलो, जेट्रोफा, सैलिफॉर्निया आदि पौधों से हरित डीज़ल प्राप्त किया जाता है l
  • गैसेहॉल में 90 % सीसा रहित पेट्रोल तथा 10 % एल्कोहल का मिश्रण होता है l
  • निकिल उत्प्रेरक की उपस्थिति में तेलों के हाइड्रोजनीकरण द्वारा खाघ वनस्पति तेल, वनस्पति घी में बदल दिये जाते है l
  • ग्रेफाइट एक स्नेह (लुब्रिकेंट) के रूप में भी प्रयोग किया जाता है l
  • यूरेनियम जीवाश्म ईंधन नहीं है l
  • सभी जैव यौगिक का अनिवार्य मूल तत्व कार्बन है l
  • बुलेटप्रूफ पदार्थ बनाने के लिये पोलिऐमाइड नामक बहुलक प्रयुक्त होता है l

अन्य पोस्ट यहां पढें – 

Join Here – नई PDF व अन्य Study Material पाने के लिये अब आप हमारे Telegram Channel को Join कर सकते हैं !

Click Here to Subscribe Our Youtube Channel

दोस्तो आप मुझे ( नितिन गुप्ता ) को Facebook पर Follow कर सकते है ! दोस्तो अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो इस Facebook पर Share अवश्य करें ! क्रपया कमेंट के माध्यम से बताऐं के ये पोस्ट आपको कैसी लगी आपके सुझावों का भी स्वागत रहेगा Thanks !

दोस्तो कोचिंग संस्थान के बिना अपने दम पर Self Studies करें और महत्वपूर्ण पुस्तको का अध्ययन करें , हम आपको Civil Services के लिये महत्वपूर्ण पुस्तकों की सुची उपलब्ध करा रहे है –

UPSC/IAS व अन्य State PSC की परीक्षाओं हेतु Toppers द्वारा सुझाई गई महत्वपूर्ण पुस्तकों की सूची

Top Motivational Books In Hindi – जो आपकी जिंदगी बदल देंगी

सभी GK Tricks यहां पढें

TAG – Chemistry Hindi Notes , Chemistry GK in Hindi , Chemistry in Hindi , Chemistry Question in Hindi PDF , Chemistry Notes in Hindi PDF Free Download , Chemistry Handwritten Notes in Hindi , General Science in Hindi

About the author

Nitin Gupta

My Name is Nitin Gupta और मैं Civil Services की तैयारी कर रहा हूं ! और मैं भारत के हृदय प्रदेश मध्यप्रदेश से हूँ। मैं इस विश्व के जीवन मंच पर एक अदना सा और संवेदनशील किरदार हूँ जो अपनी भूमिका न्यायपूर्वक और मन लगाकर निभाने का प्रयत्न कर रहा हूं !!

मेरा उद्देश्य हिन्दी माध्यम में प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने बाले प्रतिभागियों का सहयोग करना है ! आप सभी लोगों का स्नेह प्राप्त करना तथा अपने अर्जित अनुभवों तथा ज्ञान को वितरित करके आप लोगों की सेवा करना ही मेरी उत्कट अभिलाषा है !!

4 Comments

Leave a Comment